रेकी ऊर्जा क्या है ?

रेकी ऊर्जा क्या है ?

रेकी के विशेषज्ञों का मानना हैं कि अद्रृश्य ऊर्जा को जीवन ऊर्जा या ‘की’ कहा जाता हैऔर यह जीवन की प्राण शक्ति होती है। विशेषज्ञ कहते है कि हमारे आस-पास ही है और उसे मस्तिष्क द्वारा ग्रहण किया जा सकता हैं। रेकी शब्द में ‘रे’ का अर्थ है वैश्विक, अथार्त सर्वव्यापी है।

रेकी का अर्थ :- रेकी जापानी भाषा का शब्द है जो ‘ रे ‘ और ‘ की ‘ दो शब्दों से मिलकर बना है। ‘ रे ‘ का अर्थ है सर्वव्यापी अर्थात ओम्नीप्रेजेंट तथा ‘ की ‘ का अर्थ है जीवन शक्ति या प्राण अर्थात लाइफ फोर्स। इस प्रकार रेकी वह ईश्वरीय अथवा आध्यात्मिक ऊर्जा है , जो इस समस्त ब्रह्माण्ड में हमारे चारों ओर व्याप्त है।

“जिस प्रकार बिजली दिखाई नहीं देती लेकिन होती है, उसी प्रकार रेकी ऊर्जा दिखाई नहीं देती लेकिन होती है। ”

रेकी ऊर्जा से मनुष्य का सम्बन्ध
ब्रम्हाण्ड की हर वस्तु का निर्माण ब्रम्हाण्डीय ऊर्जा से हुआ हैं। ब्रम्हाण्ड के पांच तत्वों जैसे- (जल, हवा, पृथ्वी, अग्नि, आकाश) से मिलकर मनुष्य शरीर का निर्माण हुआ। ब्रम्हाण्डीय ऊर्जा को ही रेकी ऊर्जा कहते है। इसी ऊर्जा से जीवन प्राप्त होता है। इस पवित्र का इस्तेमाल करके मनुष्य अपने साथ-साथ दूसरों को भी जीवन प्रदान करता है। यही गहरा सम्बन्ध मनुष्य का रेकी से है।

Yoga Cartoon clipart - Reiki, Color, Health, transparent clip art

मनुष्य अपनी इच्छानुसार अपनी सोच रूपी शक्ति का इस्तेमाल करके डिवाइन रेकी हीलिंग की मदद से सब कुछ प्राप्त कर सकता हैं। जो व्यक्ति रेकी जितना ज्यादा इस्तेमाल करता है, अभ्यास करता हैं रेकी उस व्यक्ति को उतना ही ज्यादा फायदा पहुँचाती है। जो व्यक्ति रेकी ऊर्जा को जितना ज्यादा प्यार करता है रेकी उस व्यक्ति को उतना ही सहयोग करती हैं। रेकी और इंसान में अद्भुत और गहरा सम्बन्घ होता है।

महत्वपूर्ण यह नहीं की दिखने वाली चीज़ पर ही विश्वास करें, महत्वपूर्ण तो यह है कि पेड़ के नीचे जड़ है बिना कहे आप विश्वास कर लेते है। रेकी ऊर्जा पर भी उसी प्रकार विश्वास करें।

Available Here-
All Pyramids, All Angel Cards, All Reiki Cards, Photo of professor Mikau Usui, All Reiki Books, Healing Chart of Affirmation, Angel Oracle Cards, Anta Karna Chart.