रेकी ट्रीटमेंट करने की नई विधियां (New methods of reiki treatment)

1. सबसे पहले हम जानते है कि रेकी ट्रीटमेंट टेक्निक क्या होता है ?

रेकी ट्रीटमेंट के टेक्निक्स मै आज आपको बताने जा रहा हूँ। देखिये नॉलेज बहुत होती है लोगो के पास लेकिन टेक्निक नहीं है तो रिजल्ट नहीं मिलेगा। ये बहुत इम्पॉर्टेन्ट पार्ट है। जैसे कि आई. ए.एस के एग्जाम को पास करने के लिए या सीपीएमटी के एग्जाम को पास करने के लिए, किसी भी कम्पटीशन को पास करने के लिए पुरे ग्रन्थ पढ़ने की आवश्यकता नहीं रहती है। टेक्निकल नॉलेज होना जरुरी है। आप पास कर जायेंगे। टेक्निकल नॉलेज नहीं है, टेक्निकल माइंड नहीं हुई तो आप पास नहीं हो पाएंगे। उसी तरह से रेकी में भी टेक्निकल माइंड होना जरुरी होता है। तो रेकी में कैसे टेक्निकल मंद को यूज़ करे।

2.रेकी ट्रीटमेंट टेक्निक्स कैसे यूज़ करेंगे ?

सबसे पहले अगर कोई पेसेंट आपके पास आता है या घर के किसी सदस्य को करना है तो आते ही उसको हीलिंग करना मत शुरू करे। उससे कुछ जरुरी चीज़े पूछताछ कीजिये। कि कब से है। जैसे डॉक्टर पूछता है कब से है, क्या हो रहा है, क्या फंक्शन्स है, क्या सिस्टम है ? वो सब देगा। उसके बाद चेक कीजिये दिमाग में लगाइये अपने कि उसको जो बीमारी है वो किस चक्र से रिलेटेड है। सेवन चक्र को चेक कीजिये क्राउन चक्र, थर्ड आई, थ्रोट चक्र, हार्ट चक्र, सोलर प्लेक्सेस, सैक्रल चक्र एन्ड रुट चक्र ये सातो चक्रों को आप ऑब्जर्व कीजिये।अगर वो बोलता है कि मुझे नींद नहीं आती है। मै क्या करूं ? परेशान रहता हूँ या डिप्रेशन की प्रॉब्लम है। तो आप देखिये कि नींद नहीं आती है इसका मतलब है कि उसके मन के अंदर ढेर सारे उथल-पुथल विचार होंगे इसलिए नींद नहीं आ रही है। उसकी थर्ड आई और क्राउन चक्रा से रिलेटेड है तो क्लिंज कीजिये पहले से, उसके बाद उसके सोलर प्लैक्सेस को रेकी से क्लिंज कीजिये। हे रेकी एनर्जी मेरे दोनों हाथों में प्रवाहित हो कि मै इनकी क्लींजिंग कर सकूं। तीन बार बोलकर और क्लींज करना शुरू करे। सॉल्टवाटर रख लेंगे और उसमे नेगेटिव एनर्जी डाल देंगे और सोलर प्लैक्सेस को थर्ड आई को और क्राउन चक्रा को दो-दो मिनट क्लींज कीजिये। और उसके बाद “से हे की” लगाइये वहां पर “से हे की” लगा के “चो कू रेई” लगा के स्टेब्लाइज़्ड, स्टेब्लाइज़्ड, स्टेब्लाइज़्ड, करिये।

क्लींज कर देंगे तो ४० प्रतिशत तो वैसे ही आराम हो जायेगा उसको। उसके बाद फिर तीनो सिंबल बना के, या चारों सिंबल है आपके पास जितने भी और ऊपर के सिंबल है जैसे कि ज्वार, शान्ति, तो उसको भी लगाइये। ५-५ मिनट तीनो चक्रों का हील कर दीजिये और उसी समय वो बोलने के लिए मजबूर हो जायेगा। कि मै इसी समय बहुत ही रिलैक्स हूँ, बहुत गुड फीलिंग कर रहा हूँ, शांत हूँ, आराम से हूँ, बहुत हल्का महसूस कर रहा हूँ और उसे भेज दीजिये। आपको अपना भी करना है तो अपना इस तरह से कीजिये। किसी और को करना है तो इस मेथड से करे, इस टेक्निक से करे। उसको बोल दीजिये जब वो सोएं, उसको टेक्निक बताईये। जब वो सोने जाये तो अपनी जीभ को तालु में लगा ले।

आँख बंद करके लम्बी गहरी सांस ले और सीधा पीठ के बल सोये। शरीर को बिलकुल शांत कर दे और सांस पर ध्यान लगा के सोने की प्रोसेस करे और जब वो ऐसा करता रहेगा तो उसको बहुत अच्छी नींद आएगी। फिर नेक्स्ट डे बुला लीजिये। तीन दिन से सात दिन तक उसकी इसी तरह से क्लींजिंग होगी। अगर रात में नींद खुल जाती है तो कोई बात नहीं पानी पिए, हल्का-फुल्का टहल ले, रिलैक्स कर ले, बैठकर अनुलोम-विलोम कर ले। फालतू की बाते न सोचे क्योंकि फालतू के विचार आते है तो ब्रेन में मस्तिष्क में आग लग जाती है और जहाँ आग लगी होगी वहां शान्ति नहीं हो सकती है। लपटे निकलती है मस्तिष्क के अंदर, तो उसे शांत कीजिये अपने आप नींद आएगी। अगर नींद नहीं आ रही तो कम से कम से परेशान तो नहीं रहेगा। नींद भी अच्छी आएगी, कम आएगी लेकिन शांत तो रहेगा। अच्छी भी नींद आने लग जाएगी। ये प्रोसेस कीजिये रेकी के साथ में अपना टेक्निक्स उसको बताईये। तो देखिये खुद को भी फायदा और उसको भी फायदा।

Available Here-
All Pyramids, All Angel Cards, All Reiki Cards, Photo of professor Mikau Usui, All Reiki Books, Healing Chart of Affirmation, Angel Oracle Cards, Antah Karna Chart.