Reiki Second Level  में आपको क्या क्या सिखाया जाता है?

Reiki Second Level में आपको क्या क्या सिखाया जाता है?

  • रेकी सेकंड लेवल सीखने के लिये रेकी फर्स्ट लेवल की प्रैक्टिस 21 दिनों तक की पूरी होनी चाहिये।
  • रेकी सेकंड लेवल की ट्रेनिंग भी 2 दिनों की होती है जिसमें रोज तीन-चार घंटो का समय लगता है।
  • रेकी सेकंड लेवल में भी प्रतिदिन शक्तिपात की प्रक्रिया से गुजरना पड़ता है।
  • रेकी सेकंड डिग्री में डिस्टेंस हीलिंग (दूरस्थ उपचार तकनीक) सिखाया जाता है।
  • रेकी सेकंड डिग्री में रेकी फर्स्ट डिग्री से लगभग 20 से 40 गुना पावर बढ़ जाती है।
  • रेकी सेकंड लेवल में आपको 3 Symbols का शक्तिपात किया जाता है।
  • पहला रेकी सिंबल (रेकी प्रतीक) HON SA JE SHOW NAN है जिसका काम रेकी हीलर पार्टनर के बीच में पुल बनाना है।
  • दूसरा रेकी सिंबल (रेकी प्रतीक) ”से ही की” है जिसका काम उपचार करना है।
  • तीसरा रेकी सिंबल (रेकी प्रतीक) ”चो कू रेई ;ब्भ्व् ज्ञन् त्म्प्द्ध” है जिसका कार्य हीलिंग पॉवर बढ़ाना तथा सुरक्षा कवच तैयार करना है।
  • रेकी सेकंड लेवल में आप दूर बैठे किसी भी व्यक्ति का उपचार कर सकते हैं।
  • रेकी सेकंड लेवल में आप एक से अधिक व्यक्तियों का उपचार कर सकते हैं।
  • रेकी सेकंड लेवल में आप अपनी और दूसरों की एक साथ हीलिंग करने की पॉवर प्राप्त कर लेते हैं।
  • रेकी सेकंड लेवल में आपको शॉर्टकट हीलिंग मेथड सिखाया जाता है।
  • रेकी सेकंड डिग्री में आपको क्मंक च्मवचसम हीलिंग मेथड सिखाया जाता है।
  • शरीर एवं चक्रो को स्कैन करके व्यक्ति की वर्तमान अवस्था को जान लेने का मेथड सिखाया जाता है।
  • रेकी सेकंड डिग्री में आपको सिखाया जाता है कि यात्रा के दौरान हीलिंग कैसे करें।
  • आरामदायक अवस्था में रहते हुये हीलिंग कैसे करें।
  • थाई मेथड क्या है? सिखाया जाता है।
  • दूर बैठे व्यक्ति के नाम, फोटो, उमर तथा एड्रेस से हीलिंग कैसे करें यह सिखाया जाता है।
  • फोन पर किसी को कैसे हील करें।
  • सामने बैठाकर बात करते-करते हीलिंग कैसे करें।
  • मिरर मेथड से कैसे हीलिंग करें।
  • Third Eye क्या है? यह सिखाया जाता है।

रेकी ऊर्जा काम कैसे करती है?

जिस प्रकार अंधेरे को मिटाने के लिये दीपक का उपयोग किया जाता है उसी प्रकार जीवन की विभिन्न समस्याओं को मिटाने के लिये रेकी ऊर्जा का उपयोग किया जाता है।
गंदगी को साफ करने के लिये जिस प्रकार झाड़ू, पानी तथा पोछा का इस्तेमाल किया जाता है उसी प्रकार जीवन की नकारात्मक ऊर्जा की सफाई के लिये रेकी ऊर्जा का इस्तेमाल किया जाता है।
नकारात्मक ऊर्जा की सफाई के लिये सकारात्मक ऊर्जा का प्रयोग किया जाता है।
नकारात्मक ऊर्जा शरीर को बीमार कर देती है तथा रेकी ऊर्जा शरीर को स्वस्थ्य कर देती है।
रेकी शक्ति दैवीय ऊर्जा से हमारे शरीर तथा हमारे घर के चारों तरफ सुरक्षा कवच बना देती है।
रेकी हमें और हमारे घर के सदस्यों को बुरे लोगों तथा बुरी आत्माओं से बचाती है।
रेकी यात्रा के दौरान दुर्घटनाओं से हमारी सुरक्षा करती है।
रेकी हमारी तीसरी आंख को खोलती है।
रेकी हमारे सातों चक्रों को चार्ज तथा एक्टिव करती है।
रेकी हमारे रिष्तों में सुधार लाती है और व्यवसास व धन संपदा में कई गुना वृध्दि करती है।
रेकी तनाव, चिंता, बेचैनी तथा किसी भी प्रकार की शारीरिक बीमारी को जड़ से दूर करती है।
रेकी ऊर्जा हमारे जीवन में आने वाले नकारात्मक ऊर्जा के सारे रास्तों को बंद कर देती है।
रेकी ऊर्जा हमारे जीवन से नकारात्मक विचारों को हटाकर सकारात्मक विचार पैदा कर देती है।
रेकी ऊर्जा हमारे जीवन से अनचाहे लोगों को दूर हटा देती है।
रेकी ऊर्जा हमारे चेहरे से उदासी को हटाकर मुस्कुराहटों में परिवर्तित कर देती है।
रेकी ब्रह्मांड की हर अच्छी चीज को हमारे जीवन में आकर्षित करती है।
रेकी से न जुड़ने पर हमारे और हमारे परिवार के सदस्यों का जीवन अंधकारमय हो सकता है।

हीलिंग के दौरान याद रखने वाली जरुरी बातें।

	पेषेंट की सिचुएषन के अनुसार उसको सीट पर बैठने के लिये या लेटने के लिये कहें।
	पेषेंट को रेकी से चार्ज किया हुआ पानी पीने के लिये दें।
	5 मिनट के बाद ही उससे बात करना शुरु करें।
	आपके सेंटर की च्वेपजपअम ।नतं में आकर 5 मिनट में ही सेल्फ हील हो जायेगा।
	त्मसंग होने के बाद उसकी पूरी बात को सुनने मे पूरा समय लगायें।
	उसकी आंखो में देखकर म्दमतहल भेजते रहें। उसे बोलने का पूरा अवसर दें।
	यही प्रक्रिया दूर बैठे व्यक्ति के साथ दोहरायें।
	क्लाइंट की ब्समंदेपदह करके उसकी बिगड़ी हुई ।नतं (आभामंडल) को सामान्य करें।
	क्लाइंट के शरीर से चमड़े व ऊन की बनी वस्तुओं को शरीर से उतारे कके लिये कहें।
	सोना, चांदी, पीतल, ताबीज, रुदाक्ष की माला तथा गुरु की तस्वीर को क्लाइंट के शरीर से बिल्कुल अगल करवा दें।
	शरीर को सामान्य अवस्था में करवाकर उन्हें लेटने या बैठने के लिये कहें।
	10 मिनट तक उसके शरीर के सातों चक्रों/षरीर की क्लींजिंग करते हुये नकारात्मक ऊर्जा को साल्टवॉटर में फेंक दें।
	क्लाइंट को बोलें कि वह अपनी जीभ को तालू में चिपका ले और आंखे बंद करके लंबी गहरी सांसे लेता रहे।
	क्लाइंट को इंस्ट्रक्षंस देते रहे कि वह अपनी जीभ को तालू में लगाये रखे और लंबी गहरी सांसे लेता रहे।
	क्लाइंट को नींद आये तो उसे सोते रहने दें।
	क्लाइंट की क्लींजिंग स्टार्ट से पहले उनसे कहे कि वह अपने गुरु, माता-पिता, परमात्मा, ईष्वर या अल्लाह आदि का याद करें।
	अब आप क्लाइंट के शरीर पर 24 प्वाइंट्स पर, 3-3 मिनट की हीलिंग करें।
	प्रत्येक बिंदु पर रेकी के तीनों सिंबल बनायें तथा पॉजिटिव सुझाव देते रहें।
	हीलिंग कंप्लीट होने के बाद शरीर के आगे से रेकी लॉक करें तथा शरीर के पीछे से तीन बार स्ट्रोक दें।
	जब आप अपने शरीर को एक बार ऊपर से नीचे तक क्लींज करके रेकी लॉक करें।
	अब आप क्लाइंट के कान के पास जाकर धीरे से आंखें खोलने के लिये कहें।
	तब तक बोलते रहें जब तक आप क्लाइंट अपनी आंखे न खोल ले।
	अब आप उन्हें धीरे-धीरे उठने के लिये कहे तथा रेकी से चार्ज हुआ पानी पीने के लिये दें।
	अब उनसे च्तमेमदज म्गचमतपमदबम के बारे में पूछे।

रेकी हमारे लिये क्या-क्या करती है?

  • रेकी हमारा र्मादर्षन करती है तथा हमें सही मार्ग पर लेकर आती है।
  • रेकी हमें नकारात्मक लोगां से बचाकर सकारात्मक लोगों से जोड़ती है।
  • रेकी हमें सही निर्णय लेने में मदद करती है।
  • रेकी हमारा आत्मविष्वास बढ़ाकर जोखिम लेने की शक्ति प्रदान करती है।
  • रेकी हमें महान, धनी एवं सफल लोगों के संपर्क में लेकर आती है।
  • रेकी हमारे सारे कर्ज को समाप्त करके हमारे जीवन को स्वर्ग बनाती है।
  • रेकी हमारे अंतर मन की आंखे खोल कर हमें अदृष्य मे देखने की ताकत पैदा करती है।
  • रेकी आपको स्वयं से जोड़ कर दूसरों के साथ जुड़ने की कला सिखाती है।
  • रेकी मरते हुये इंसान को जिंदा करने की शक्ति पैदा करती है।
  • रेकी हमें कम बोलना, कम सोचना तथा अच्छा बोलना व अच्छा सोचना सिखाती है।
  • रेकी हमें कम खाना तथा अच्छा खाना सिखाती है।
  • रेकी हमें साफ-सुथरा रहना सिखाती है तथा नषीले पदार्थों के सेवन से दूर रखती है।
  • रेकी हमें टाइम, मनी और एनर्जी का सही निवेष करना सिखाती है।
  • रेकी हमारे रिष्तों को मजबूत तथा अच्छा करना सिखाती है।
  • रेकी हमें दान देना तथा निवेष का सही तरीका सिखाती है।
  • रेकी हमारे परिवार के सदस्यों के अच्छे संस्कार में वृध्दि करती है।
  • रेकी कमाई अथवा आय के अनेको स्त्रोत खोल देती है।
  • रेकी हमें ईष्वर से जोड़ती है तथा सच्चा सुख प्रदान करती है।
  • हम क्या करें, क्या न करें इसका सही ज्ञान देती है।
  • रेकी हमें इंसानियत सिखा कर भेदभाव मिटाना सिखाती है।
  • रेकी जाति धर्म, रंग, वर्ग तथा समूह का भेदभा मिटाकर एकता से जीना सिखाती है।
  • रेकी से मानसिक तथा भावनात्मक बीमारियों का इलाज किया जा सकता है।
  • रेकी मन की चंचलता को समाप्त करके स्थिरता दिलाती है।
  • रेकी हमारे जीवन से उन लोगों को दूर भगा देती है जो हमारा नुकसान करते हैं।
  • रेकी से हमें सुरक्षा कवच प्राप्त होती है।
  • रेकी हमें नफरत भुलाकर प्रेम से जीना सिखाती है।
  • रेकी हमारे व्यवसाय को बढ़ाती है।